कश्मीर की हसीन वादियां फिर बना बॉलीवुड की पहली पसंद, इमरान हाशमी-विक्की कौशल भी शूटिंग में व्यस्त – Bollywood in Kashmir the beautiful valleys again became the first choice for Bollywood

Bollywood in Kashmir- India TV Hindi News
Image Source : PR
Bollywood in Kashmir

Bollywood in Kashmir: कश्मीर और बॉलीवुड का रिश्ता बहुत पुराना है, 1989 में कश्मीर में हिंसा शुरू होने से पहले 1980 के दशक तक बॉलीवुड फिल्म उद्योग के लिए कश्मीर पसंदीदा स्थान हुआ करता था, लेकिन अब 32 साल बाद बॉलीवुड एक बार फिर कश्मीर का रुख कर रहा है। जम्मू कश्मीर सरकार को घाटी में शूटिंग की अनुमति देने के लिए देश भर के फिल्म निरमात्माओं से 500 से अधिक ऍप्लिकेशन्स प्राप्त हुए हैं।

इस वर्ष कश्मीर के खूबसूरत पर्यटन  स्थल गुलमर्ग, पहलगाम और डल झील में 150 से अधिक फिल्मों की शूटिंग हुई हैं ,बॉलीवुड फिल्मों के अलावा टीवी सीरियल वेब फिल्म वीडियो एल्बम और कमरशिल एड की शूटिंग भी दर्शायी गई हैं। 32 साल बाद बॉलीवुड की इस वापसी से पर्यटन विभाग से जुड़े लोगों के चेहरे पर भी मुस्कान लौट आई है। 

अजय देवगन की फिल्म ‘Thank God’ पर गिरी गाज, चित्रगुप्त का मजाक बनाने पर यूपी में केस दर्ज

इमरान हाशमी और बॉलीवुड स्टार विक्की कौशल भी इन दिनों कश्मीर में अपनी नई फिल्म की शूटिंग में बिजी दिख रहे हैं। इमरान हासमी की नई फिल्म ‘ग्राउंड जीरो’  जिस में वो एक आर्मी अफसर का रोल अदा कर रहे हैं, पिछले 15 दिनों से कश्मीर के विभिन लोकेशंस पर शूट करते दिखाई दे रहे हैं।  जबकी विकी कौशल सम बहादुर फिल्म की शूटिंग के लिए पहलगाम की हसीन वादियों में खूबसूरत लोकेशंस की तलाश कर रहे हैं। जानकारी के मुताबिक इन दोनों फिल्मों की कहानी में यहां की ख़ूबसूरती फिल्म में एक नई जान डाल रहे हैं। 

See also  मंगल ग्रह की भूमध्‍य रेखा एकदम सूखी, मार्स इनसाइट मिशन से खुला राज, क्‍या संभव होगा जीवन?


 इंडिया टीवी से बात करते हुए पर्यटन सचिव सरमद हफीज ने कहा इस वर्ष कफी संख्या में न सिर्फ बॉलीवुड कश्मीर का रुख कर रहा है बल्कि साउथ इंडियन फिल्मों की शूटिंग भी कश्मीर मे हो रही है। इन फिल्म यूनिट्स के आने से कश्मीर के लोगों के लिए नए रास्ते खुलेंगे और पर्यटन को भी बढ़ावा होगा।

Pratik Sehajpal ने Ekta Kapoor को कहा शुक्रिया, जानिए क्यों लिखा इमोशनल नोट

सरमद हफ़ीज़ ने ये भी कहा नई फिल्म नीति के ताहत, जम्मू-कश्मीर सरकार ने अनुमति प्राणाली को लोक सेवा गारंटी अधिनियम (पीएसजी) के तहत रखा है। जम्मू-कश्मीर प्रशासन को 30 दिनों के निर्धारित समय के भीतर फिल्म निर्मातों को अनुमति देनी होगी। निर्मातों के लिए इसे आसान बनाने के लिए सिंगल विंदो सिस्टम भी लगाया गया है। फिल्म निर्माता अनुमति के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

कश्मीर के 70-80 दशक की बात करें तो कोई ऐसी फिल्म नहीं बनी होगी जिसे कुछ हिस्से या कोई गाना कश्मीर में न फिल्माया गया हो। अब उम्मीद की जा रही है कि बॉलीवुड की इस वापसी और कश्मीर में पहला मल्टीप्लेक्स सिनेमा के शुरू होने से न सिर्फ पर्यटन को और ज्यादा बढ़ावा मिलेगा, बल्कि यहाँ  की आर्थिक व्यवस्था में भी सुधार होगा।

राजन शाही के शो में फिर साथ नजर आएगी शिवांगी जोशी-मोहसिन खान की जोड़ी!

Latest Bollywood News

Leave a Reply

Your email address will not be published.