कोयला तस्करी: ममता बनर्जी के एक और मंत्री CBI के निशाने पर, मलय घटक के ठिकानों पर छापेमारी

हाइलाइट्स

छापे कुल छह स्थानों पर मारे जा रहे हैं
कोयला तस्करी मामले में सामने आया नाम
घटक किसी भी मकान में नहीं मिले

कोलकाता. पश्चिम बंगाल में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के एक और मंत्री  सीबीआई के निशाने पर आ गए हैं. आसनसोल में ‘ईस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड’ की खदानों से कथित तौर पर कोयला तस्करी के मामले में कानून मंत्री मलय घटक के परिसरों पर छापे मारे जा रहे हैं. अधिकारियों ने बुधवार को ये जानकारी देते हुए बताया कि छापे कुल छह स्थानों पर मारे जा रहे हैं. इनमें से कोलकाता में पांच और आसनसोल में एक ठिकाना है. इससे पहले ईडी ने एसएससी भर्ती घोटाला में पूर्व मंत्री पार्थ चटर्जी पर एक्शन लिया था.

सीबीआई ने नवंबर 2020 में अनूप मांझी उर्फ लाला, ईसीएल के महाप्रबंधक अमित कुमार धर और जयेश चंद्र राय, ईसीएल सुरक्षा प्रमुख तन्मय दास, कुनुस्तोरिया क्षेत्र के सुरक्षा निरीक्षक धनंजय राय और काजोर इलाके के सुरक्षा प्रभारी देबाशीष मुखर्जी के खिलाफ FIR दर्ज की थी.

इस बीच कोलकाता से मिली जानकारी के अनुसार सीबीआई के अधिकारियों ने पश्चिम वर्धमान जिले के आसनसोल में घटक के तीन मकानों और कोलकाता के लेक गार्डन इलाके में स्थित एक मकान पर छापे मारे. सीबीआई के एक अधिकारी ने ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया,‘‘ उनका नाम कोयला तस्करी मामले में सामने आया, हमें यह जानने की जरूरत है कि उसमें उनकी भूमिका क्या रही ? हमारे पास घोटाले में घटक के शामिल होने के पर्याप्त सुबूत हैं.’

जिस वक्त छापे पड़े, उस वक्त घटक किसी भी मकान में नहीं थे. उन्होंने बताया कि सीबीआई के अधिकारियों ने मंत्री के परिजन के मोबाइल फोन ले लिए और सब को आसनसोल के उनके मकान में एक कमरे में एक साथ बैठा दिया. छापे के दौरान केन्द्रीय बलों के जवानों ने उनके मकानों को चारों तरफ से घेर लिया.

See also  VIDEO: याद है कि नहीं, आज ही के दिन फुटबॉल के मैदान पर 'गॉड' ने खुद किया था गोल

Tags: CBI, Coal scam, Mamta Banarjee

Leave a Reply

Your email address will not be published.