दुर्गा पूजा के बाद BJP करेगी ‘जेल भरो आंदोलन’, सुकांत मजूमदार ने कहा- ममता बनर्जी की टिप्पणी सही नहीं

हाइलाइट्स

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि टीएमसी ने नबन्ना मार्च में घुसपैठ कराया और हिंसा भड़काई.
सुकांत मजूमदार ने कहा कि दुर्गा पूजा के बाद भाजपा जेल भरो आंदोलन करेगी.
ममता बनर्जी के पुलिस संयम वाले बयान को सुकांत मजूमदार ने गलत बताया.

कोलकाता. पश्चिम बंगाल में बीते मंगलवार को भाजपा के नबन्ना मार्च के दौरान पुलिस और कार्यकर्ताओं के बीच हुई हिंसक झड़प को लेकर सीएम ममता बनर्जी ने हमला बोला तो भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष ने पलटवार करते हुए कहा कि सीएम ममता बनर्जी की टिप्पणी सही नहीं है. बंगाल भाजपा प्रमुख सुकांत मजूमदार ने कहा कि सीएम ममता बनर्जी की टिप्पणी सही नहीं है. टीएमसी ने लोगों को हमारे अभियान में घुसपैठ कराया और हिंसा भड़काई. पुलिस ने भी इसे भड़काया और लोगों को रेलवे स्टेशनों पर रोका. हम दुर्गा पूजा के बाद ‘जेल भरो आंदोलन’ शुरू करेंगे.

वहीं पश्चिम बंगाल विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष सुवेंदु अधिकारी ने कहा कि सीएम ममता बनर्जी के पास सत्ता है, अगर वह प्रदर्शनकारियों पर गोलियां चलाना चाहती हैं तो वह ऐसा कर सकती हैं, उन्हें एक घंटे में अपनी सीएम की कुर्सी छोड़नी होगी. हमारे पार्टी-कार्यकर्ताओं को रोक दिया गया, फिर भी भ्रष्टाचार और वंशवादी राजनीति के खिलाफ ‘नबन्ना चलो’ जन आंदोलन बन गया. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बुधवार को कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राज्य सचिवालय तक मार्च के दौरान पुलिस, पार्टी के ‘‘हिंसक’’ प्रदर्शनकारियों पर गोली चला सकती थी, लेकिन सरकार ने ‘‘अधिकतम’’ संयम बरता.

सीएम ममता बनर्जी ने यह भी आरोप लगाया कि भाजपा मंगलवार के अपने ‘नबन्ना अभियान’ के लिए राज्य के बाहर से ट्रेनों से बमों से लैस गुंडों को लेकर आई थी. पूर्व मेदिनीपुर जिले के निमटौरी में एक प्रशासनिक बैठक के दौरान उन्होंने कहा, ‘‘उस रैली में भाग लेने वालों ने कई पुलिसकर्मियों पर बेरहमी से हमला किया. पुलिस गोलियां चला सकती थी, लेकिन हमारे प्रशासन ने अधिकतम संयम दिखाया.’’

See also  PAK vs NED: पाकिस्तान ने 98 गेंद रहते दूसरा वनडे भी जीता, फिर बाबर आजम ने जड़ी फिफ्टी

मुख्यमंत्री बनर्जी ने कहा कि बंगाल के सबसे बड़े त्योहार दुर्गा पूजा से कुछ हफ्ते पहले इस विरोध मार्च से यात्रियों और व्यापारियों को परेशानी हुई. उन्होंने कहा, ‘‘हम लोकतांत्रिक और शांतिपूर्ण विरोध प्रदर्शन के खिलाफ नहीं हैं लेकिन, भाजपा और उसके समर्थकों ने हिंसा, तोड़फोड़ और आगजनी का सहारा लिया. उन्होंने संपत्तियों को आग लगा दी और लोगों में भय उत्पन्न किया.’’ उन्होंने कहा, ‘‘हम इसकी अनुमति नहीं देंगे। गिरफ्तारियां की जा रही हैं और कानून अपना काम करेगा.’’ (इनपुट भाषा से)

Tags: Mamata banerjee, West Bengal BJP

Leave a Reply

Your email address will not be published.