बिहार: थाने में नाग-नागिन के जोड़े को देख छूटे पुलिसवालों के पसीने! थानाध्यक्ष बोले- काफी विषैले थे…

हाइलाइट्स

जमुई के बरहट थाना में नाग-नागिन को देख पुलिसकर्मियों में दहशत फैल गई.
पुलिसकर्मियों ने पहले तो खुद ही निकालना चाहा मगर उन्हें सफलता नहीं मिली.
घंटों मशक्कत के बाद सपेरे ने नाग-नागिन के जोड़े को पकड़कर जंगल में छोड़ा.

जमुई. बरहट थाना में तब अफरा तफरी मच गई जब थाना परिसर में पुलिसकर्मियों ने एक साथ नाग-नागिन को देखा. थाना परिसर में जब्त किए गए सामानों के पास अचानक पहले एक नाग दिखा तो पुलिसवाले दहशत में आ गए. एक सांप को लोग बाहर निकालने की सोच ही रहे थे कि तभी दूसरा सांप भी बगल में ही नजर आ गया. पुलिसकर्मी तब और हैरान-परेशान हो गए जब यह बता लगा कि यह जोड़ा नाग-नागिन का है.

चार से पांच फीट के नाग-नागिन को देख सबके होश उड़ गए. मुश्किल यह थी कि पुलिसकर्मी नाग-नागिन के जोड़े को नुकसान नहीं पहुंचाना चाहते थे. इसके बाद दोनों को वहां से भगाने का खूब प्रयास किया गया, लेकिन जोड़ा टस से मस नहीं हुआ. थाना में काम करनेवाले पुलिसकर्मियों के साथ कोई हादसा न हो जाए इसलिए सपेरा बुलाने का फैसला लिया.

जमुई शहर के हरनाहा मोहल्ले से सपेरे को बुलाया गया. फिर थाना में बीन की मधुर धुन गूंजने लगी. लगभग दो घंटे के मशक्कत में बाद सपेरे ने नाग-नागिन को वश में करते हुए उन्हें पकड़ डब्बे में बंद कर दिया और बरहट के जंगल में ले जाकर उन्हें सही सलामत छोड़ दिया गया. इसके बाद पुलिसवालों ने राहत की सांस ली.

थाने में नाग-नागिन के जोड़े के मामले में बरहट थानाध्यक्ष चितरंजन कुमार ने बताया कि सपेरे ने बताया कि ये काफी विषैले थे. दोनों सांप को बगैर नुकसान पहुंचाए सपेरे की मदद से पकड़ कर जंगल में छोड़ दिया गया. बता दें कि कुछ दिन पहले ही इसी इलाके में पतौना गांव में मरीज का ईलाज करने गए ग्रामीण डॉक्टर के स्कूटी में एक विषैले सांप ने अपना डेरा जमा लिया था. उस दिन भी काफी मशक्कत के बाद सपेरे ने ग्रामीण डॉक्टर की स्कूटी से सांप को निकाला था.

See also  Plea Seeking Action Against Forced Conversion, Sc Notice To Center - Supreme Court : छल-बल-लालच से धर्म परिवर्तन के खिलाफ सख्त कानून बनाए जाने की मांग, केंद्र को नोटिस

Tags: Bihar News, Jamui news, Snake Rescue

Leave a Reply

Your email address will not be published.