Spicejet ने 80 पायलटों को बिना वेतन के 3 महीने की छुट्टी पर भेजा, DGCA के बैन का असर!

हाइलाइट्स

विमानन कंपनी स्पाइसजेट ने अपने 80 पायलटों को छुट्टी पर भेज दिया है.
बीते 27 जुलाई को डीजीसीए ने कंपनी के 50 फीसदी विमानों पर उड़ान भरने से रोक लगा दी है.
स्पाइसजेट कंपनी ने कहा है कि किसी भी तरह की कोई छंटनी नहीं होगी.

नई दिल्ली. एयरलाइन कंपनी स्पाइसजेट के आर्थिक हालात ठीक नजर नहीं आ रहे हैं. क्योंकि कंपनी ने अपने 80 पायलटों को बिना वेतन के छुट्टी पर भेज दिया है. हाल ही में स्पाइजेट पर डीजीसीए की सख्ती के बाद से उसकी मालीय स्थिति और खराब हो गई है. स्पाइसजेट ने 80 पायलटों को तीन महीने के लिए बिना वेतन के छुट्टी पर भेजने का फैसला किया है. सूत्रों का हवाला देते हुए रिपोर्ट में कहा गया है कि लीव विदआउट पे पर गए पायलटों में से 40 पायलट विमान संख्या B737 और 40 पायलट Q400 के हैं. कंपनी की तरफ से कहा गया है कि इन पायलटों को अस्थायी उपायों के तहत छुट्टी पर भेजा गया है. कंपनी ने यह भी कहा है कि किसी भी कर्मचारी की छंटनी नहीं की जा रही है.

एयरलाइन ने कोरोना की महामारी के दौरान भी कोई छंटनी नहीं की थी. बिजनेस स्टैंडर्ड की खबर के अनुसार एयरलाइन ने स्पष्ट रूप से कहा है कि छुट्टी पर भेजे जा रहे पायलटों के जाने से कामकाज प्रभावित नहीं होगा. रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि स्पाइजेट कई महीनों से घाटे में है. जून तिमाही में घाटा बढ़कर 784 करोड़ रुपये तक पहुंच गया. वित्तीय वर्ष के हिसाब से साल 2019 में 316 करोड़ रुपये, साल 2020 में 934 करोड़, साल 2021 में 998 करोड़ और साल 2022 में 1725 करोड़ रुपये का घाटा उठाना पड़ा है.

See also  बहन से छेड़खानी का विरोध करना भाई को भारी पड़ा, दबंगों ने खंभे से बांध कर की पिटाई

बता दें कि बीते 27 जुलाई को डीजीसीए ने स्पाइसजेट के विमानों लगातार आ रहीं तकनीकी खराबियों के चसते एक्शन लेते हुए 8 हफ्तों के लिए 50 फीसदी उड़ानों पर रोक लगा दी है. डीजीसीए ने कहा था कि इन 8 हफ्तों तक एयरलाइन को अतिरिक्त निगरानी में रखा जाएगा. डीजीसीए ने आदेश जारी करते हुए कहा था कि अगर भविष्य में स्पाइजेट एयरलाइन 50 फीसदी से ज्यादा उड़ानें चाहती है तो उसे साबित करना होगा कि ये अतिरिक्त भार उठाने की क्षमता उसके पास है. पर्याप्त संसाधन और स्टॉफ मौजूद हैं. बता दें कि स्पाइसजेट कंपनी के पास कुल 90 विमान हैं. हालांकि डीजीसीए के आदेश के बाद कंपनी केवल 50 विमान ही ऑपरेट कर पाल रही है.

ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी | आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी |

FIRST PUBLISHED : September 21, 2022, 02:10 IST

Leave a Reply

Your email address will not be published.